तरबूज खाने का सही समय फायदे और नुक्सान | Tarbuz khane ka sahi samay fayde aur nuksaan

तरबूज खाने का सही समय फायदे और नुकसान | Tarbuz khane ka sahi samay fayde aur nuksaan

Table of Contents

तरबूज खाने का सही समय फायदे और नुकसान | Tarbuz khane ka sahi samay fayde aur nuksaan

दोस्तों इस लेख में हम बात करेंगे गर्मियों में सबसे ज्यादा खाये जाने वाले फल तरबूज़ के बारे में जैसा की हम जानते है तरबूज़ पेट के लिए बहोत लाभदायक फल होता है। हरा तरबूज़ तासीर में ठंडा, पानी से भरा हुआ और स्वाद में मीठा होता है। यह पेट और पेट की आंतो के लिए एक तरह से क्लीन्ज़र का काम करता है। तरबूज जल्दी पेट से निकल जाता है और पेट में मौजूद पानी के साथ जल्दी घुल जाता है। गर्मी के मौसम में यह फल खाने से और भी लाभदायक गुणों की प्राप्ति होती है। (Tarbuz khane ka sahi samay fayde aur nuksaan)

ठण्ड में अगर आप तरबूज़ खा रहे हो तो याद रहें इसकी तासीर ठंडी होने की वजह से आपको परेशानी हो सकती है इसलिए इसको बैलेंस करने के लिए साथ में आप अदरक का सेवन कर सकते है। तरबूज़ को खाना खाने से पहले खाना चाहिए अन्यथा आपको मतली का अनुभव हो सकता है। कुछ डॉक्टर्स का कहना है कि तरबूज़ को खाली पेट खाने से पेट और आंतो की सफाई होती है। तरबूज़ गर्मियों में आने वाला एक ऐसा फल है जो मानव शरीर को तरो ताज़ा रखता है। (Tarbuz khane ka sahi samay fayde aur nuksaan)

तरबूज़ का सेवन करने से शरीर हाइड्रेटेड रहता है साथ ही यह प्यास को भी बुझाने में मदद करता है। तरबूज़ में ज्यादा पानी की मात्रा होने के कारण इसमें कैलोरी बहोत कम मात्रा में पायी जाती है। तो , दोस्तों तरबूज़ ऐसा फल है जिसका सेवन गर्मी में सबसे ज्यादा होता है और इसके सेवन का सही समय भी गर्मी का ही मौसम है। (Tarbuz khane ka sahi samay fayde aur nuksaan)

तरबूज़

तरबूज़ खाने के फायदे –

  • तरबूज़ का सेवन मानव शरीर को हाइड्रेटेड रखता हैं।
  • तरबूज़ पेट के लिए क्लीन्ज़र के रूप में कार्य करता है और आंतो की सफाई करता हैं।
  • तरबूज़ में पानी की मात्रा अधिक होती है जिससे बॉडी अच्छे से कार्य करती है।
  • तरबूज़ में कम कैलोरीज पायी जाती है जो कि मानव शरीर के लिए उचित है।
  • तरबूज़ में एंटी कैंसर तत्व पाए जाते है।
  • हृदय के स्वास्थ के लिए भी तरबूज़ कारगार है।
  • तरबूज़ कोलेस्ट्राल और हाई ब्लड प्रेशर को भी कम करने में मदद करता है।
  • यह पेट की सूजन और जलन को कम करता है।
  • तरबूज़ में एमिनो एसिड के तत्व पाए जाते है जो एक्सरसाइज़ के परफॉरमेंस को इम्प्रूव करता है और मांसपेशी के दर्द को कम करता है।
  • तरबूज़ में विटामिन A और C के तत्व पाए जाते है जिससे त्वचा को लाभ मिलता है।
  • तरबूज़ में पाए जाने वाला पानी और फाइबर पाचन क्रिया के लिए लाभदायक होता है।

तरबूज़ खाने के नुकसान –

  • अधिक मात्रा में तरबूज़ के सेवन से दस्त लग सकते है।
  • तरबूज़ का सेवन खून में शुगर लेवल को बढ़ा सकता है।
  • तरबूज़ के सेवन से हृदय संबंधी परेशानी बढ़ सकती है।
  • लिवर की सूजन के जोखिम को बढ़ा सकता है।
  • तरबूज़ के अधिक सेवन से ओवर हाइड्रेशन हो सकता है।
  • तरबूज़ में पोटेसियम की मात्रा होती है इसलिए इसका अधिक सेवन करने से हृदय सम्बन्धी बीमारी हो सकती है।
  • अधिक मात्रा में तरबूज़ के सेवन से गैस की समस्या भी हो सकती है।
  • अधिक मात्रा में तरबूज़ के सेवन से गुर्दे कमज़ोर हो सकते है।
  • तरबूज़ का शुगर लेवल हाई होता है।
  • रात में सोने से पहले तरबूज़ के सेवन से पाचन क्रिया धीमी हो सकती है।

इन फलों के बारे में भी पढ़े – पपीता खाने के फायदे और नुकसान | Papeeta khane ke fayde aur nuksan hindi mei

केले खाने के फायदे और नुकसान | Kele khane ke fayde aur nuksan hindi mei

अंगूर खाने के फायदे और नुकसान | Angoor khane ke fayde aur nuksan hindi mei

नारियल पानी पीने के फायदे और नुकसान | Nariyal paani peene ke fayde aur nuksan hindi mei

संतरा खाने के फायदे और नुकसान | Santra khane ke fayde aur nuksan hindi mei

ड्रैगन फ्रूट के फायदे और नुकसान | Dragon fruit ke fayde aur nuksan hindi mei

अनार खाने के फायदे और नुकसान | Anaar khane ke fayde aur nuksan hindi mei

सेब खाने के फायदे और नुकसान | Seb khane ke fayde aur nuksan hindi mei

आम खाने के फायदे और नुकसान | Aam khane ke fayde aur nuksan hindi mei

1 कप (150 ग्राम) कटे हुए तरबूज के पोषक तत्व-

कैलोरी46
कार्बोहाइड्रेट11.5 ग्राम्स
फाइबर 0.6 ग्राम्स
शुगर 9.4 ग्राम्स
प्रोटीन 0.9 ग्राम्स
फैट 0.2 ग्राम्स
विटामिन A दैनिक मूल्य का 5% (DV)
विटामिन Cदैनिक मूल्य का 14% (DV)
पोटैशियम दैनिक मूल्य का 4% (DV)
मैग्नीशियम दैनिक मूल्य का 4% (DV)
सोर्स – healthline.com

ज़रूरी सूचना – इस लेख में सारी जानकारी तथ्यों के आधार पर दी गयी है, अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श ले। यह पेज इस जानकारी के लिए किसी भी ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.