सनस्क्रीन के फायदे और नुकसान | Sunscreen ke fayde aur nuksan hindi mei

सनस्क्रीन के फायदे और नुकसान | Sunscreen ke fayde aur nuksan hindi mei

Table of Contents

सनस्क्रीन के फायदे और नुकसान | Sunscreen ke fayde aur nuksan hindi mei

हेलौ प्रिय दोस्तों, आज हम इस लेख में बात करेंगे सनस्क्रीन के फायदे और नुकसान (Sunscreen ke fayde aur nuksan hindi mei) के बारे में। गर्मियों का मौसम त्वचा के लिए खास अच्छा नहीं होता है, इस मौसम में त्वचा का ख्याल रखना बेहद जरुरी है। इसी वजह से हम सनस्क्रीन का उपयोग करते हैं ताकि त्वचा को हानिकारक सूरज की किरणों से बचाया जा सके। इस लेख में हम यही जानेंगे कि सनस्क्रीन के फायदे और नुकसान क्या क्या है, इस में कौन-कौन से पोषक तत्व पाए जाते हैं, और कैसी स्थिति में इसका इस्तेमाल करना फायदेमंद होता है।

त्वचा हमारे शरीर का एक महत्वपूर्ण अंग है। अच्छी त्वचा न केवल सुंदरता बढ़ाती है बल्कि आत्मविश्वास देने में भी काफी सहायक होती है। आज कल तरह तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट्स बाजार में आ गए हैं, जिनका उपयोग करके हम सुंदर तो दिख सकते हैं परन्तु लम्बे समय के लिए यह त्वचा को नुकसान पहुंचा सकते हैं। इसके अलावा कई प्रकार के नेचुरल प्रोडक्ट्स भी आते हैं जो त्वचा को पोषण देने का दावा करते हैं। (सनस्क्रीन के फायदे और नुकसान)

आजकल की बिजी लाइफ स्टाइल और खान-पान का असर सीधे सीधे तौर पर त्वचा पर होता है। त्वचा में बाहर के केमिकल्स की वजह से नई नई तरह की परेशानियां पैदा हो रही है। ऐसे में त्वचा का ख्याल रखना बेहद जरूरी होता है। इसी प्रकार सूर्य की किरणे भी त्वचा को बहुत डैमेज करती है। त्वचा को इससे बचाने के लिए हम सनस्क्रीन का इस्तेमाल करते हैं। तो आइये जानते हैं सनस्क्रीन के फायदे और नुकसान के बारे में। (सनस्क्रीन के फायदे और नुकसान)

मूलतः सनस्क्रीन दो प्रकार के होते हैं, एक फिजिकल सनस्क्रीन लोशन और एक केमिकल सनस्क्रीन लोशन। फिजिकल सनस्क्रीन लोशन सूरज से निकलने वाली किरणों को स्किन से रिफ्लेक्ट करते हैं जबकि केमिकल सनस्क्रीन लोशन सूरज से निकलने वाली किरणों को अवशोषित करके उन्हें न्यूट्रलाइज़ करता है। इसके साथ ही घर से निकलने के 20 मिनट पहले ही सनस्क्रीन लोशन लगा लेना चाहिए। (सनस्क्रीन के फायदे और नुकसान)

आज कल बाज़ार में कई तरह के सनस्क्रीन कंपनियों ने उतारे हैं। कई सनस्क्रीन का निर्माण कुछ आर्गेनिक चीजों का इस्तेमाल करके किया जाता है। वहीं दूसरी और कई सनस्क्रीन का निर्माण केमिकल्स का इस्तेमाल करके किया जाता है। अच्छी सनस्क्रीन का चुनाव अपनी त्वचा और क्लाइमेट के हिसाब से करना चाहिए। (सनस्क्रीन के फायदे और नुकसान)

सनस्क्रीन के फायदे (Benefits of Sunscreen in hindi) –

  • सनस्क्रीन का इस्तेमाल करने से त्वचा सूरज की किरणों से जलने से बच जाती है।
  • आंखों के नीचे मुख्य रूप से सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना चाहिए, इससे डार्क सर्कल और आईबैग्स नहीं बनते हैं।
  • सूरज की किरने पड़ने से त्वचा काली पड़ सकती है जिसे टेनिंग कहते हैं, सनस्क्रीन का इस्तेमाल करने से समस्या से बचा जा सकता है।
  • आजकल त्वचा के साथ मॉइश्चराइजेशन भी आता है, इसलिए सिर्फ सनस्क्रीन का इस्तेमाल करने से त्वचा को सूरज की किरणों से बचाने के साथ-साथ मॉइश्चराइज भी मिलता है।
  • सनस्क्रीन का इस्तेमाल करने से झुर्रियां और फाइन लाइंस से भी बचा जा सकता है।
  • कई सनस्क्रीन टिंटेड यानी त्वचा को फेयर लुक देने वाले आते हैं, जिससे मेकअप का इस्तेमाल नहीं करना पड़ता।

सनस्क्रीन के नुकसान (Side effects of Sunscreen in hindi) –

  • सेंसिटिव त्वचा के लोगों को सनस्क्रीन का इस्तेमाल पैच टेस्ट करने के बाद ही करना चाहिए।
  • केमिकल सनस्क्रीन का इस्तेमाल करने से त्वचा पर एलेर्जी हो सकती है।
  • कई लोगों को सनस्क्रीन के इस्तेमाल पर कील मुहांसो की समस्या हो सकती है।
  • सनस्क्रीन का इस्तेमाल करने से आँखों में जलन हो सकते है।

दूध से जुड़े कुछ घरेलु नुस्खों के बारे में पढ़े – कच्चा दूध चेहरे पर लगाने के फायदे | Kachcha doodh chehre par lgane ke fayde hindi mei

दूध में बदाम बिघोकर खाने के फायदे और नुकसान | Doodh mei badam bheegokar khane ke fayde aur nuksan hindi mei

बकरी का दूध पीने के फायदे और नुकसान | Bakri ka doodh peene ke fayde aur nuksan hindi mei

दूध में शहद मिलाकर पीने के फायदे और नुकसान | Doodh mei shehad milakar peene ke fayde aur nuksan hindi mei

दूध में अंडा डालकर पीने के फायदे और नुकसान | Doodh mein anda daalkar peene ke fayde aur nuksan hindi mei

सनस्क्रीन से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण सवाल –

सनस्क्रीन कब लगाया जाता है?

बाहर धूप में निकलने के करीब आधा घंटा पहले सनस्क्रीन लगा लेना चाहिए।

सनस्क्रीन दिन में कितनी बार लगाना चाहिए?

यदि आप पूरा दिन बाहर रहेंगे तो हर 2 से 3 घंटे में सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना चाहिए।

ज़रूरी सूचना – इस लेख में सारी जानकारी तथ्यों के आधार पर दी गयी है, अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श ले। यह पेज इस जानकारी के लिए किसी भी ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.