सूखी खांसी का बढ़ियां घरेलू उपचार | Sukhi Khansi ka badhiya gharelu upchar in hindi

सूखी खांसी का बढ़ियां घरेलू उपचार | Sukhi Khansi ka badhiya gharelu upchar in hindi

Table of Contents

सूखी खांसी का बढ़ियां घरेलू उपचार | Sukhi Khansi ka badhiya gharelu upchar in hindi

हेलौ प्रिय दोस्तों, आज हम इस लेख में बात करेंगे सूखी खांसी का बढ़ियां घरेलू उपचार (Sukhi Khansi ka badhiya gharelu upchar) के बारे में। सूखी खांसी एक ऐसी समस्या है, जो है तो अस्थायी लेकिन इससे गले को तकलीफ और दर्द बढ़ा होता है। इसके साथ ही बोलने में भी तकलीफ होती है। सूखी खांसी होने के कई कारण हो सकते हैं। यह धूल मिट्टी, प्रदूषण, इन्फेक्शन कई वजह से हो सकती है। (सूखी खांसी का बढ़ियां घरेलू उपचार)

आजकल की बिजी लाइफ स्टाइल और खान-पान का असर सीधे सीधे तौर पर शरीर पर होता है। शरीर में बाहर के केमिकल्स की वजह से नई नई तरह की परेशानियां पैदा हो रही है। ऐसे में शरीर का ख्याल रखना बेहद जरूरी होता है। घरेलू उपचार करना सेहत को कई प्रकार से फायदे पहुंचाता है। यह दवाइयों की तरह शरीर पर कोई दूसरा प्रभाव नहीं डालते हैं। हमारे घर में ऐसी कई चीजे है, जो न केवल रसोई के व्यंजनों में काम आती है बल्कि शरीर की कई समस्याओं के उपचार में भी काम आती है। (सूखी खांसी का बढ़ियां घरेलू उपचार)

सूखी खांसी कई प्रकार की हो सकती है। एक होती है जो गंभीर बीमारी का लक्षण हो सकती है, इस समस्या में डॉक्टर से इलाज करवाना ही सबसे अच्छा होता है। और दूसरी हलकी फुलकी किसी एलर्जी या सर्दी जुकाम और कफ के कारण भी हो सकती है। ऐसी खांसी को ठीक करने के लिए घरेलू उपचार सबसे सटीक होता है। आज हम ऐसे ही कुछ घरेलू उपचार के बारे में बात करेंगे। जिससे न सिर्फ सूखी खांसी को कम करने में मदद मिलती है, इसके साथ ही कफ कम करने में भी मदद मिलती है। तो चलिए जानते हैं सूखी खांसी का बढ़ियां घरेलू उपचार(Sukhi Khansi ka badhiya gharelu upchar in hindi)

सूखी खांसी का बढ़ियां घरेलू उपचार (Best home remedies for dry cough in hindi) –

अदरक से सूखी खांसी का इलाज

अदरक में एंटी माइक्रोबियल और एंटी इन्फ्लैमटरी प्रॉपर्टी पायी जाती है। यह गले में से कफ को साफ़ करने में मदद करता है। इसके साथ ही इसकी तासीर गर्म होती है, इसलिए भी यह खांसी को काफी हद तक ठीक करने में सहायक होता है। इसका उपयोग करने के लिए अदरक की चाय पी जा सकती है। इसके साथ ही अदरक के रस का सेवन शहद के साथ कर सकते हैं। यह सूखी खांसी को 3 से 4 दिनों में ही ठीक कर सकता है। (अदरक से सूखी खांसी का इलाज)

गर्म पानी से सूखी खांसी का इलाज –

गर्म यानि कुनकुना पानी खांसी में बहुत अच्छा होता है यह गले को राहत देता है। इसके साथ ही सर्दी खांसी की समस्या में शरीर में पानी की कमी हो सकती है। ऐसे में कुनकुना पानी शरीर को हाइड्रेट रखने के साथ साथ गले के लिए भी अच्छा होता है। (गर्म पानी से सूखी खांसी का इलाज)

गरारे से सूखी खांसी का इलाज –

नमक के पानी के गरारे गले से जुड़ी कई तरह की परेशानियों ठीक करने में सहायक होता है। नमक के गरारे करने के लिए पानी को हल्का गर्म करें। फिर इसमें 1 छोटा चम्मच नमक डाल कर घोल लेंगे। अब इस मिश्रण से गरारे करेंगे। यह गले से कफ को साफ़ करने में मदद करता है। (गरारे से सूखी खांसी का इलाज)

शहद से सूखी खांसी का इलाज

शहद में कई प्रकार के औषधीय गुण पाए जाते हैं। इसके साथ ही इसमें एंटी माइक्रोबियल और एंटी इन्फ्लैमटरी प्रॉपर्टी पायी जाती है। इसलिए इन्फेक्शन की वजह से होने वाली खांसी को शहद का इस्तेमाल करके ठीक किया जा सकता है। इसका सेवन सीधे तौर पर किया जा सकता है। इसके साथ ही कुनकुने पानी के साथ मिला कर भी शहद का सेवन किया जा सकता है।

मुलेठी से सूखी खांसी का इलाज

मुलेठी को जड़ी बूटियों की गिनती में गिना जाता है। यह एक प्राकृतिक औषधि है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटीबायोटिक प्रॉपर्टी पाई जाती है। खांसी की समस्या में मुख्य रूप से मुलेठी का इस्तेमाल किया जा सकता है। मुलेठी का इस्तेमाल करने के लिए के छोटे टुकड़े को मुंह में रखकर चूसा जा सकता है। इससे कफ और खांसी दोनों में ही राहत मिलती है। (मुलेठी से सूखी खांसी का इलाज)

हल्दी से सूखी खांसी का इलाज

हल्दी में कई तरह के औषधीय गुण पाए जाते हैं। यह एंटीसेप्टिक और एंटीबैक्टीरियल गुणों से भरपूर होती है। खांसी में हल्दी का उपयोग करना काफी फायदेमंद होता है। यह गले से कफ को साफ करने का काम करती है। इसके साथ ही शरीर में इम्यूनिटी बढ़ाकर शरीर को दूसरी समस्याओं से लड़ने की ताकत भी देती है। हल्दी का सेवन गर्म पानी के साथ सीधे तौर पर भी किया जा सकता है। इसके साथ ही दूध के साथ भी इसका सेवन किया जा सकता है। (हल्दी से सूखी खांसी का इलाज)

काली मिर्च से सूखी खांसी का इलाज

काली मिर्च भी एक प्रकार की औषधि है। यह खांसी की समस्या में काफी फायदेमंद होती है इसमें मौजूद प्राकृतिक गुण खासी को जल्दी ठीक करने में सहायक होते हैं। खांसी की समस्या में काली मिर्च का सेवन करने के लिए काली मिर्ची को कूटकर शहद के साथ लिया जा सकता है। (काली मिर्च से सूखी खांसी का इलाज)

यह भी पढ़े – च्वनप्राश खाने के फायदे । Chyawanprash khane ke fayde in hindi

दालचीनी और शहद के फायदे और नुकसान क्या है? | Dalchini aur Shehad ke fayde aur nuksan kya hai hindi mei

गुनगुने पानी में शहद और नींबू डालकर पीने के फायदे | Gungune paani mei Shehad aur Nimbu daalkar peene ke fayde

खांसी से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण सवाल –

सूखी खांसी हो तो क्या करना चाहिए?

सूखी खांसी होने पर घरेलू उपचार से इसे ठीक किया जा सकता है। इस लेख में ऊपर सूखी खांसी ठीक करने के लिए घरेलू उपचार दिए गए हैं।

सूखी खांसी में क्या नहीं खाना चाहिए?

सूखी खांसी होने पर ठंडा, मीठा, चावल, दही, केला आदि खाने से बचना चाहिए।

ज़रूरी सूचना – इस लेख में सारी जानकारी तथ्यों के आधार पर दी गयी है, अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श ले। यह पेज इस जानकारी के लिए किसी भी ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.