खसखस को दूध में डालकर पीने के फायदे और नुकसान | Khas khas ko doodh mei daalkar peene ke fayde aur nuksan hindi mei

खसखस को दूध में डालकर पीने के फायदे और नुकसान | Khas khas ko doodh mei daalkar peene ke fayde aur nuksan hindi mei

खसखस को दूध में डालकर पीने के फायदे और नुकसान | Khas khas ko doodh mei daalkar peene ke fayde aur nuksan hindi mei

हेलौ प्रिय दोस्तों, आज हम इस लेख में बात करेंगे खसखस को दूध में डालकर पीने के फायदे और नुकसान (Khas khas ko doodh mein daalkar peene ke fayde aur nuksan) के बारे में खसखस और दूध दोनों ही औषधीय गुणों से भरपूर होते है। आयुर्वेद में इनका महत्वपूर्ण स्थान है। इस लेख में हम यही जानेंगे कि खसखस को दूध में डालकर पीने के फायदे और नुकसान क्या क्या है, इस में कौन-कौन से पोषक तत्व पाए जाते हैं, और कैसी स्थिति में लेना इसे फायदेमंद होता है। (खसखस को दूध में डालकर पीने के फायदे और नुकसान)

आजकल की बिजी लाइफ स्टाइल और खान-पान का असर सीधे सीधे तौर पर शरीर पर होता है। शरीर में बाहर के केमिकल्स की वजह से नई नई तरह की परेशानियां पैदा हो रही है। ऐसे में शरीर का ख्याल रखना बेहद जरूरी होता है। शरीर का ख्याल रखने और शरीर को स्वस्थ रखने के लिए आज के जीवन में खसखस को दूध में डालकर पीने के बेहद फायदे होते है। यह शरीर को कई प्रकार से लाभ पहुँचता है। (खसखस को दूध में डालकर पीने के फायदे और नुकसान)

खस-खस एक तिलहन प्रजाति की फसल होती है। खस-खस का आकार काफी बारीक और किडनी जैसा होता है। भारत में मुख्य रूप से पोस्ता दाना यानी खसखस की खेती दक्षिण भारत, राजस्थान, बंगाल, महाराष्ट्र आदि में की जाती है। खसखस के पौधे से मिलने वाले इन दानों का मूल्य बेहद ज्यादा होता है। यह काफी महंगे दामों में बाजारों में मिलते हैं। खसखस की तासीर ठंडी होती है। इसलिए गर्मियों में इसका सेवन करने से ज्यादा शारीरिक लाभ होते हैं। (खसखस को दूध में डालकर पीने के फायदे और नुकसान)

दूध में कई प्रकार के पोषक तत्व जैसे विटामिन A, विटामिन D, विटामिन B12, कैल्शियम, पोटेशियम, फास्फोरस, नियासिन, राइबोफ्लेविन आदि पाए जाते हैं। इसलिए इसका सेवन करना काफी सेहतमंद होता है। वहीं खसखस में भी कई प्रकार के पौष्टिक तत्व जैसे ओमेगा 6, ओमेगा 3, पोटेशियम, मैग्नीशियम, आयरन, कार्बोहाइड्रेट्स, प्रोटीन, कैल्शियम आदि पाए जाते हैं। इसके साथ ही इसमें एंटी फंगल, एंटी बैक्टीरियल, एंटी इन्फ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट जैसी प्रॉपर्टीज भी पाई जाती है। इसलिए खसखस को दूध में डालकर पीने से इसके फायदे कई गुना बढ़ जाते हैं। (खसखस को दूध में डालकर पीने के फायदे और नुकसान)

खसखस को दूध में डालकर पीने के फायदे और नुकसान | Khaskhas ko doodh mein daalkar peene ke fayde aur nuksan hindi mei
खसखस को दूध में डालकर पीने के फायदे और नुकसान

खसखस को दूध में डालकर पीने के फायदे (Benefits of drinking poppy seeds with milk in hindi) –

  • रक्तचाप यानी ब्लड प्रेशर को संतुलित बनाए रखने के लिए खसखस को दूध में डालकर पीने से काफी फायदा मिलता है।
  • मोटापे की समस्या में भी खसखस को दूध में डालकर पीने से वजन कम करने में सहायता मिलती है।
  • खसखस को दूध में डालकर पीने से मानसिक तनाव में राहत मिलती है।
  • अनिद्रा की समस्या में भी खसखस और दूध काफी कारगर होते हैं, सोने के थोड़ी देर पहले दूध में खसखस डालकर पीने से नींद अच्छी आती है।
  • खसखस को दूध में डालकर पीने से पेट से जुड़ी कई समस्याओं का समाधान हो सकता है।
  • खसखस को दूध में डालकर पीने से शरीर को इंस्टेंट एनर्जी मिलती है।
  • खून की कमी होने पर भी दूध में खसखस डालकर पीने से काफी फायदा मिलता है।
  • खसखस शरीर को ठंडा रखने में मदद करती है।
  • ठंडा खसखस और दूध का मिश्रण स्वाद में भी काफी अच्छा होता है।

खसखस को दूध में डालकर पीने के नुकसान (Side effects of drinking poppy seeds with milk in hindi)

  • खसखस और दूध के अब तक ज्यादा गंभीर दुष्परिणाम नहीं देखे गए हैं।
  • एलर्जिक लोगों को जाहिरी तौर पर इसका सेवन करने से बचना चाहिए।

यह भी पढ़े – खजूर को दूध में डालकर पीने के फायदे और नुकसान | Khajoor ko doodh mein daal kar peene ke fayde aur nuksan hindi mei

किडनी में हल्दी दूध पीने के फायदे | Kidney mein haldi doodh peene ke fayde hindi mei

खाली पेट बेल का जूस पीने के फायदे और नुकसान | Khaali pet bel ka juice peene ke fayde aur nuksan hindi mei

खसखस को दूध में डालकर पीने से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण सवाल –

खसखस को दूध में पीने से क्या होता है?

खसखस को दूध में पीने से कई तरह के शारीरिक फायदे होते हैं, जो इस लेख में ऊपर दिए गए हैं।

दूध में खसखस का उपयोग कैसे करें?

खसखस को दूध के साथ पीने के लिए खसखस के दानों को रात भर पानी में गला के रख दें। सुबह इन्हें पानी से छान लें और फिर धीरे-धीरे दूध और शक्कर डालकर पीस लें, अब इसमें दूध मिलाएं और फिर इसका सेवन करें।

ज़रूरी सूचना – इस लेख में सारी जानकारी तथ्यों के आधार पर दी गयी है, अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श ले। यह पेज इस जानकारी के लिए किसी भी ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.