जामुन खाने के फायदे और नुकसान | Jamun khane ke fayde aur nuksan hindi mei

जामुन खाने के फायदे और नुकसान | Jamun khane ke fayde aur nuksan hindi mei

जामुन खाने के फायदे और नुकसान | Jamun khane ke fayde aur nuksan hindi mei (Benefits and side effects of eating java plum in hindi)

जामुन एक छोटा बैंगनी रंग का फल है, जो गूदेदार होता है और इसमें अंदर गुठली भी होती है। स्वाद में अच्छी तरह से पके हुए जामुन मीठे होते है। इसका वैज्ञानिक नाम सायजीजियम क्यूमिनी (Syzygium cumini) है। यह एसिडिक नेचर का फल होता है। जामुन ग्रीष्म ऋतू में आता है। भारत में कई क्षेत्रों में इसकी खेती होती है और कई जगहों पर यह केवल एक वृक्ष,फल खाने के उद्देश्य से भी उगाया जाता है। उद्योगों में इसका जैम और सिरका बना कर भी बेचा जाता है। (Benefits and side effects of eating java plum in hindi)/(जामुन खाने के फायदे और नुकसान)

जामुन में कई पौष्टिक तत्व होते हैं। गर्मियों में आने वाला यह फल लू लगने से भी बचाता है। जामुन ब्लड शुगर लेवल को भी नियंत्रित करता है। इसके साथ ही यह पाचन क्रिया भी दुरुस्त करता है। जामुन के साथ साथ इसकी गुठलियां और छाल भी फायदेमंद होती है इससे कई प्रकार के रोगों का इलाज करने में उपयोग में लिया जाता है। त्वचा संबंधी रोगों में भी जामुन की गुठलियां बहुत कारगर साबित हुई है

जामुन के बीज के फायदे –

जामुन के बीज में कई प्रकार के पोषक तत्व जैसे विटामिन C, कैल्शियम, एंटीऑक्सीडेंट, आयरन आदि होते हैं। यह शरीर में बेड कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम करने में सहायक होता है। जामुन के बीजों में अच्छी मात्रा में आयरन होता है, जिसकी वजह से एनीमिया की कंडीशन में जामुन के बीज का सेवन करना लाभदायक होता है। जामुन के बीज का उपयोग इसे सूखा कर इसका पाउडर बना कर कर सकते हैं। जामुन का बीज डायबिटीस में भी काफी उपयोगी माना जाता है।

शुगर में जामुन के फायदे –

जामुन शुगर की बीमारी में बहोत होता है। यह ब्लड शुगर लेवल को कम करके संतुलित करने में मदद करता है। डायबिटीस टाइप 2, की बीमारी में जामुन काफी फायदेमंद होता है। जामुन शरीर में मौजूद स्टार्च को एनर्जी में कन्वर्ट करता है। (जामुन खाने के फायदे और नुकसान)

जामुन के सिरके के फायदे और नुकसान –

जामुन के साथ साथ इसका सिरका भी फायदेमंद होता है। जी घबराना , उलटी जैसा लगने इन समस्याओं में जामुन के सिरके का सेवन करना लाभदायक होता है। इसके साथ ही गले में जमे हुए कफ, खांसी आदि में भी जामुन का सिरका कारगर साबित हुआ है। यह पाचन तंत्र भी ठीक करता है, इसके साथ ही दस्त में इसका सेवन करने से दस्त की समस्या ठीक हो जाती है।

जामुन (BLACKBERRY)

जामुन खाने के फायदे (Benefits of eating Java Plum in hindi) –

  • जामुन ब्लड शुगर लेवल को संतुलित करता है।
  • गर्मियों में इसका सेवन करने से लू नहीं लगती है।
  • जामुन पाचन क्रिया अच्छी करने में सहायक होता है।
  • दस्त लगने पर नमक लगा कर जामुन का सेवन करने से दस्त ठीक हो जाते है।
  • जामुन खाने से लीवर से जुडी परेशानिया नहीं होती है।
  • एनीमिया में जामुन खाने से काफी लाभ होता है, यह शरीर में खून की मात्रा बढ़ाता है।
  • घबराहट होने पर जामुन का सेवन करने से ठीक लगता है।

जामुन खाने के नुकसान (Side effects of eating Java Plum in hindi) –

  • स्तनपान कराने वाली महिलाओं को जामुन का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • एलर्जिक लोगों को जाहिरी तौर पर इसका सेवन नहीं करना चाहिए।
  • अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से खांसी की समस्या हो सकती है।

140 ग्राम्स जामुन के पोषक तत्व –

कैलोरी80
कार्बोहाइड्रेट14 ग्राम्स
फाइबर1 ग्राम्स
प्रोटीन1 ग्राम्स
फैट0 ग्राम्स
सोडियम40 mg
पोटैशियम79 mg

खाली पेट जामुन खाने से क्या नुकसान है?

खाली पेट जामुन खाने से एसिडिटी हो सकती है क्यूंकि यह अम्लीय फल है।

जाामुन खाने के बाद क्या क्या नहीं खाना चाहिए?

जामुन खाने के बाद दूध और दूध से बनी चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए।

जामुन खाने के बाद कितनी देर बाद पानी पीना चाहिए?

कोई भी फल खाने के तुरंत बाद पानी नहीं पीना चाहिए। जामुन खाने के कम से कम 1 घंटे बाद पानी पीना चाहिए।

इसे भी पढ़े – स्ट्रॉबेरी खाने के फायदे और नुकसान | Strawberry khane ke fayde aur nuksan hindi mei

इसे भी पढ़े – संतरा खाने के फायदे और नुकसान | Santra khane ke fayde aur nuksan

ज़रूरी सूचना – इस लेख में सारी जानकारी तथ्यों के आधार पर दी गयी है, अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श ले। यह पेज इस जानकारी के लिए किसी भी ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.