गोंद कतीरा खाने के फायदे और नुकसान | Gond Katira khane ke fayde aur nuksan hindi mei

गोंद कतीरा खाने के फायदे और नुकसान | Gond Katira khane ke fayde aur nuksan hindi mei

गोंद कतीरा खाने के फायदे और नुकसान | Gond Katira khane ke fayde aur nuksan hindi mei

हैलो दोस्तों, आज हम जानेंगे गोंद कतीरा खाने के फायदे और नुकसान। गोंद कतीरा एक चिपचिपा पदार्थ होता है, जो कुछ वृक्षों की छाल से निकाला जाता है। यह वृक्ष है नीम,बबूल और कीकर। गोंद कतीरा दिखने में ट्रांसपेरेंट होता है, इसमें कोई स्वाद और गंध भी नहीं होती है। इसकी तासीर ठंडी होती है। औषधीय गुणों से भरपूर यह गोंद कतीरा भारत में मुख्य रूप से पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और मध्य प्रदेश में पाया जाता है।

गोंद कतीरा में कई तरह के पोषक तत्व होते हैं जैसे कि कैलशियम, मैग्निशियम, प्रोटीन, फोलिक एसिड आदि। गोंद कतीरा की तासीर ठंडी होती है इसलिए गर्मी में इसका सेवन करने से शरीर में ठंडक मिलती है। हीट स्ट्रोक और सन स्ट्रोक की संभावनाएं भी कम होती है। भारत में कई प्रकार से गोंद कतीरा खा कर इसका फायदा लिया जाता है। जैसे मिश्री में पीसकर या फिर दूध में मिलाकर इसका सेवन किया जा सकता है, ज्यादातर लोग गोंद कतीरा का लड्डू बना कर इसका सेवन करते हैं।

गोंद कतीरा के लड्डू का सेवन करने से शरीर में ताकत आती है। बच्चे के जन्म के बाद गोंद कतीरा के लड्डू का सेवन करने से शरीर में ताकत बनी रहती है और कमजोरी नहीं आती है। आजकल माहवारी के दौरान महिलाओं को कमजोरी और थकान का अनुभव होता है, ऐसे में गोंद कतीरा का सेवन करने से शरीर में कमजोरी दूर होती है। इसके साथ ही गोंद कतीरा का सेवन माहवारी के दौरान करने से रक्त रिसाव भी कम होता है। माहवारी के दौरान गोंद कतीरा का सेवन मिश्री के साथ पीसकर किया जा सकता है, या फिर इसके लड्डू बनाकर भी खाए जा सकते हैं।

गोंद कतीरा का सेवन करने से कब्ज में भी राहत मिलती है। शरीर का इम्यूनिटी सिस्टम मजबूत करने के लिए गोंद कतीरा का सेवन करना लाभदायक होता है। शारीरिक कमजोरी को दूर करने के लिए भी गोंद कतीरा का सेवन करना अच्छा होता है।

गोंद कतीरा का नियमित रूप से सेवन करने से वजन कम करने में भी सहायता मिलती है। इसमें भरपूर मात्रा में फाइबर पाया जाता है, जिससे काफी देर तक पेट भरा भरा महसूस होता है और भूख नहीं लगती। इसका सेवन करने से शरीर से टॉक्सिंस बाहर निकलते हैं, और मेटाबॉलिज्म की प्रक्रिया अच्छी होती है। इसलिए यह पेट की समस्याओं में भी फायदा पहुंचाता है और पाचन तंत्र भी ठीक करता है।मुंह में छालों की समस्या में भी गोंद कतीरा काफी फायदेमंद होता है। इसका पेस्ट बनाकर छालों पर लगाने से मुंह के छालों में राहत मिलती है क्योंकि इसकी तासीर ठंडी होती है।

हर सिक्के के दो पहलू होते हैं जहां एक और गोंद कतीरा का सेवन करने से क्या फायदे हैं वहीं दूसरी और इसके कुछ नुकसान भी है। गोंद कतीरा चिपचिपा होने की वजह से पेट और आंतों में चिपक सकता है, इसलिए इसका सेवन करते समय पानी अधिक मात्रा में पीना जरूरी है। इसी के साथ गर्भवती महिलाओं को भी गोंद कतीरा का सेवन डॉक्टर की सलाह से ही करना चाहिए।

गोंद कतीरा खाने के फायदे और नुकसान | Gond Katira khane ke fayde aur nuksan hindi mei
गोंद कतीरा

गोंद कतीरा खाने के फायदे (Benefits of eating Gond Katira in hindi) –

  • प्रसव के बाद गोंद कतीरा का सेवन करने से शरीर में ताकत आती है।
  • महावारी के दौरान गोंद कतीरा का सेवन करने से रक्त रिसाव कम होता है और शरीर की कमजोरी भी ठीक होती है।
  • गोंद कतीरा का सेवन करने से पेट से जुड़ी समस्याएं ठीक होती है एवं कब्जे में भी राहत मिलती है।
  • इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत करने के लिए गोंद कतीरा का सेवन करना लाभदायक होता है।
  • नियमित रूप से गोंद कतीरा का सेवन करने से वजन कम करने में सहायता मिलती है।
  • गोंद कतीरा शरीर में पाचन क्रिया अच्छी करता है।
  • गोंद कतीरा का पेस्ट मुंह के छालों पर लगाने से काफी फायदा मिलता है।
  • गोंद कतीरा का सेवन करने से शरीर के टॉक्सिंस बाहर जाते हैं व मेटाबॉलिज्म की प्रक्रिया अच्छी होती है।

गोंद कतीरा खाने के नुकसान (Side effects of eating Gond Katira in hindi) –

  • एलर्जीक लोगों को जाहिरी तौर पर गोंद कतीरा का सेवन करने से बचना चाहिए।
  • गर्भवती महिलाओं को भी डॉक्टर की सलाह पर ही गोंद कतीरा का सेवन करना चाहिए।
  • चिपचिपा होने के कारण गोंद कतीरा का सेवन करने से पेट में आंतों में चिपक सकता है।

गोंद कतीरा से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण सवाल –

गोंद कतीरा की तासीर क्या है?

गोंद कतीरा की तासीर ठंडी होती है।

गोंद को कैसे खाया जाता है?

गोंद को मिश्री के साथ पीसकर या फिर दूध में मिलाकर या फिर इसके लड्डू बनाकर खाया जा सकता है।

पुरुषों को कौन सा गोंद खाना चाहिए?

पुरुषों को शारीरिक ऊर्जा बढ़ाने के लिए गोंद कतीरा का सेवन करना चाहिए।

यह भी पढ़े – गोंद के लड्डू के फायदे और नुकसान | Gond ke laddoo khane ke fayde aur nuksan hindi mei

ज़रूरी सूचना – इस लेख में सारी जानकारी तथ्यों के आधार पर दी गयी है, अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श ले। यह पेज इस जानकारी के लिए किसी भी ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.