दूध में इलायची डालकर पीने के फायदे | Doodh mei Elaichi daal kar peene ke fayde hindi mei

दूध में इलायची डालकर पीने के फायदे | Doodh mei Elaichi daal kar peene ke fayde hindi mei

दूध में इलायची डालकर पीने के फायदे | Doodh mei Elaichi daal kar peene ke fayde hindi mei

हेलौ प्रिय दोस्तों, आज हम इस लेख में बात करेंगे दूध में इलायची डालकर पीने के फायदे (Doodh mei Elaichi daal kar peene ke fayde) के बारे में। दूध को एक आयुर्वेदिक दवाई कहा जा सकता है क्यूंकि यह औषधीय गुणों से भरपूर होता है। इस लेख में हम यही जानेंगे कि दूध में इलायची डालकर पीने के फायदे और नुकसान क्या क्या है, इस में कौन-कौन से पोषक तत्व पाए जाते हैं, और कैसी स्थिति में लेना इसे फायदेमंद होता है। दूध आसानी से किसी भी दूध डेयरी या किराने की दुकान पर पैकेट में मिल जाता है। किन्तु पैकेट की बजाय इसे सीधे फार्म से खुला लेना ज्यादा फायदेमंद होता है।

आजकल की बिजी लाइफ स्टाइल और खान-पान का असर सीधे सीधे तौर पर शरीर पर होता है। शरीर में बाहर के केमिकल्स की वजह से नई नई तरह की परेशानियां पैदा हो रही है। ऐसे में शरीर का ख्याल रखना बेहद जरूरी होता है। शरीर का ख्याल रखने और शरीर को स्वस्थ रखने के लिए आज के जीवन में दूध में इलायची डालकर पीने के बेहद फायदे होते है। यह शरीर को कई प्रकार से लाभ पहुँचता है। (दूध में इलायची डालकर पीने के फायदे)

गाय, भैंस और बकरी के दूध के अलावा भी आजकल वीगन दूध यानी ऐसा दूध जो पशुओं द्वारा ना मिला हो, काफी चलन में है। यह दूध बादाम, सोया, काजू जैसी कई प्रकार की चीजों से निकालकर बनाया जाता है। इन्हीं सब चीजों के चलते आजकल गाय और भैंस के दूध की खपत में भारी मात्रा में कमी आई है। परंतु आज भी भारत में अत्यधिक लोग गाय और दूध के भैंस का इस्तेमाल ही करते हैं। आमतौर पर ज्यादातर लोग दूध का सेवन सुबह करते हैं, लेकिन रात को दूध पीने से इसके शारीरिक लाभ और भी ज्यादा हैं। (दूध में इलायची डालकर पीने के फायदे)

दूध में इलायची डालकर पीने के कई शारीरिक लाभ होते हैं। इलायची भी 2 प्रकार की होती है, एक बढ़ी इलायची और एक छोटी यानी हरी इलायची। आज हम हरी इलायची के बारे में बात करेंगे। हरी इलायची पौधे पर लगती है, इसके अंदर काले बीज होते हैं, जिन्हे पीस कर इस्तेमाल किया जाता है। इसके साथ ही कुछ लोग इसका मुखवास के रूप में भी इस्तेमाल करते हैं। हरी इलायची पौष्टिक गुणों से भरपूर होती है। इसका उपयोग कई प्रकार के व्यंजनों में किया जाता है। (दूध में इलायची डालकर पीने के फायदे)

अब दूध की बात करें तो दूध में भी कई प्रकार के पोषक तत्व जैसे विटामिन A, विटामिन D, विटामिन B12, कैल्शियम, पोटेशियम, फास्फोरस, नियासिन, राइबोफ्लेविन आदि पाए जाते हैं। इसलिए इसका सेवन करना काफी सेहतमंद होता है। दूध और इलायची दोनों में ही पौष्टिक गुणों की भरमार होती है। इसलिए दूध में इलायची डालकर पीने के कई शारीरिक फायदे होते हैं। कई लोगों को कोरे दूध में से बास आती है और पीने का मन नहीं करता है, ऐसे में दूध में इलायची डालकर पीना बहुत अच्छा विकल्प है। (दूध में इलायची डालकर पीने के फायदे)

दूध में इलायची डालकर पीने के फायदे | Doodh mei Elaichi daal kar peene ke fayde hindi mei
दूध में इलायची डालकर पीने के फायदे

दूध में इलायची डालकर पीने के फायदे (Benefits of drinking cardamom in milk) –

  • दूध और इलायची दोनों में ही भरपूर मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है, इसलिए दूध में इलायची डालकर पीने से हड्डियां मजबूत होती है।
  • दूध में इलायची डालकर पीने से पाचन क्रिया अच्छी तरह से होती है।
  • दूध और इलायची दोनों ही शरीर में इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत करने का काम करते हैं, इसलिए दूध में इलायची डालकर पीने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।
  • दूध में इलायची डालकर पीने से पेट अच्छी तरह साफ होता है।
  • नियमित रूप से दूध में इलायची डालकर पीने से ह्रदय संबंधी रोगों से बचा जा सकता है।
  • हाई ब्लड प्रेशर की समस्या में भी दूध में इलायची डालकर पीने से फायदा मिलता है।
  • दूध में इलायची डालकर पीने से मुंह की दुर्गंध से छुटकारा पाया जा सकता है।

सनस्क्रीन के बारे में पढ़े – सनस्क्रीन के फायदे और नुकसान | Sunscreen ke fayde aur nuksan hindi mei

तैलीय त्वचा के लिए सबसे अच्छा सनस्क्रीन लोशन कौन सा है? Teliy tvacha ke liye sabse acha sunscreen lotion kon sa hai?

भारत में सबसे अच्छे सनस्क्रीन लोशन कौन कौन सें हैं? Bharat mei sabse achche sunscreen lotion kon kon se hai?

दूध में इलायची डालकर पीने से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण सवाल –

इलायची वाला दूध कब पीना चाहिए?

रात को सोने से थोड़ी देर पहले इलायची वाले दूध का सेवन करना फायदेमंद होता है।

इलायची वाला दूध पीने से क्या होता है?

इलायची वाला दूध पीने के कई प्रकार के शारीरिक लाभ होते हैं, जो ऊपर इस लेख में दिए गए हैं।

ज़रूरी सूचना – इस लेख में सारी जानकारी तथ्यों के आधार पर दी गयी है, अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श ले। यह पेज इस जानकारी के लिए किसी भी ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.