बोरो प्लस क्रीम के फायदे और नुकसान | Boro plus cream ke fayde aur nuksan hindi mei

बोरो प्लस क्रीम के फायदे और नुकसान | Boro plus cream ke fayde aur nuksan hindi mei

बोरो प्लस क्रीम के फायदे और नुकसान | Boro plus cream ke fayde aur nuksan hindi mei

प्रिय पाठकों इस लेख में हम बात करेंगे बोरो प्लस क्रीम के फायदे और नुकसान के बारे में। बोरो प्लस क्रीम इमामी कंपनी द्वारा निर्मित किया जाता है। बोरो प्लस भारत में बहोत लोकप्रिय है निश्चित ही आपने भी इसे इस्तेमाल किया होगा। बोरो प्लस एंटीसेप्टिक निरोधक और उपचार में काम आने वाली एक आयुर्वेदिक क्रीम है जो सूखी त्वचा, घाव, खरोच, मामूली जलन, फटी हुई त्वचा, फुंसी एवं अन्य कई त्वचा सम्बंधित समस्याओं में मदद करती है। बोरो प्लस एक मल्टीपर्पस क्रीम है जो कई उद्देश्य से उपयोग में ली जाती है जैसे सर्दियों में, एंटीसेप्टिक क्रीम के रूप में, रात्रि क्रीम के रूप में, मॉस्चराइज़र के रूप में एवं फटी एड़ियों के लिए इस्तेमाल की जाती है।

बोरो प्लस एंटीसेप्टिक क्रीम में पांच आयुर्वेदिक औषधीय जैसे हल्दी, तुलसी, चन्दन, नीम और एलोवेरा के गुण पाए जाते है। इस क्रीम में मौजूद नीम की शक्ति से मुँहासे, निशान एवं ब्लैकहेड्स को ठीक करने में मदद मिलती है। तुलसी की गुणों की मदद से त्वचा को साफ़ रखने में और जलन को शांत करने में मदद मिलती है। क्रीम में मौजूद हल्दी त्वचा को एक बहोत ही बेहतर परिणाम देती है। क्रीम में मौजूद एलोवेरा की मदद से सोरायसिस, मुंहासों और एक्जिमा को ठीक करने में मदद मिलती है। (बोरो प्लस क्रीम के फायदे और नुकसान)

बोरो प्लस एक आयुर्वेदिक क्रीम है जो कई महत्वपूर्ण जड़ी-बूटी से तैयार किया गया है एवं इस क्रीम का उपयोग हर तरह की त्वचा पर किया जा सकता है। यह क्रीम बहोत ही सुरक्षित माना गया है। क्रीम को उपयोग करने से पहले क्रीम के साथ आये लेबल को सावधानी के साथ पहले पढ़ लेना चाहिए। छोटे बच्चों को इस क्रीम की पहुंच से दूर रखना चाहिए। इस क्रीम को घर में साफ़ और सुखी जगह पर रखना चाहिए। इस क्रीम को सीधी धूप से बचा कर रखना चाहिए। (बोरो प्लस क्रीम के फायदे और नुकसान)

बोरो प्लस क्रीम कैसे लगाया जाता है?

बोरो प्लस एंटीसेप्टिक क्रीम चेहरे, गले, कोहनी, पैर, होठ और अन्य सुखी त्वचा पर इस्तेमाल होने वाली क्रीम है इसे हलके हाथ से मसाज करते हुए त्वचा पर लगाना चाहिए। बोरो प्लस क्रीम का इस्तेमाल नाहने के बाद, घर से बाहर निकलते समय और रात में सोने से पहले करना सबसे ज्यादा फायदेमंद माना जाता है। बोरो प्लस क्रीम सिर्फ बाहरी त्वचा पर इस्तेमाल होने वाला क्रीम है इसलिए इसको नाक, आँख एवं मुंह में जाने से बचाना चाहिए अगर गलती से यह क्रीम आँख, कान या मुंह में चली जाए तो इसे तुरंत साफ़ कर लेना चाहिए। (बोरो प्लस क्रीम के फायदे और नुकसान)

बोरो प्लस क्रीम के फायदे और नुकसान | Boro plus cream ke fayde aur nuksan hindi mei
बोरो प्लस क्रीम | Boro plus cream

बोरो प्लस क्रीम के फायदे (Benefits of Boro plus cream in hindi)-

  • इस क्रीम में मौजूद नीम की शक्ति से मुँहासे, त्वचा के निशान एवं ब्लैकहेड्स को ठीक करने में मदद मिलती है।
  • इस क्रीम से तुलसी की गुणों की मदद से त्वचा को साफ़ रखने में और त्वचा पे होने वाली जलन को शांत करने में मदद मिलती है।
  • इस क्रीम में मौजूद हल्दी त्वचा को एक बहोत ही बेहतर परिणाम देने में कारगर साबित हुई है।
  • क्रीम में पाया जाने वाला एलोवेरा की मदद से सोरायसिस, मुंहासों और एक्जिमा को ठीक करने में मदद मिलती है।
  • यह क्रीम आपकी त्वचा को ठीक करने और उसे मॉइस्चराइज़ करने के लिए काफी फायदेमंद हो सकता है।

बोरो प्लस क्रीम के नुकसान (Side effects of Boro plus cream in hindi)-

  • ज्यादा समय तक इस क्रीम का इस्तेमाल करने से कोई समस्या उत्पन्न हो सकती है इसलिए यदि आप इसके इस्तेमाल के दौरान कोई एलर्जी प्रतिक्रिया देखे तो अपने चिकित्सक से अवश्य परामर्श ले।
  • बोरो प्लस क्रीम का इस्तेमाल करने से त्वचा चिप-चिपि हो जाती है।
  • यदि किसी को बोरो प्लस की खुशबू से एलर्जी है तो ऐसे में छींक चलना शुरू हो सकती है।

इन क्रीम्स के बारे में भी पढ़े – Clop-g क्रीम के फायदे और नुकसान | Clop-g cream ke fayde aur nuksan hindi mei

एक्नेस्टार क्रीम के फायदे और नुकसान | AcneStar cream ke fayde aur nuksan hindi mei

विको टरमरिक क्रीम के फायदे और नुकसान | Vicco turmeric cream ke fayde aur nuksan hindi mei

नो स्कार्स क्रीम के फायदे और नुकसान | No Scars cream ke fayde aur nuksan hindi mei

बोरो प्लस क्रीम से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण सवाल-

बोरोप्लस क्यों लगाते हैं?

बोरोप्लस एक एंटीसेप्टिक क्रीम है जिसका इस्तेमाल सूखी त्वचा, घाव, खरोच, मामूली जलन, फटी हुई त्वचा, फुंसी एवं अन्य कई त्वचा सम्बंधित समस्याओं में किया जाता है।

बोरोप्लस का निर्माण कौन करता है?

बोरोप्लस का निर्माण इमामी लिमिटेड कंपनी करती है साथ ही यह कंपनी हैंड सैनिटाइजर, साबुन और लिक्विड हैंड वॉश एवं कई प्रोडक्ट्स का निर्माण करती है।

बोरोप्लस का आविष्कार कब हुआ था?

कहा जाता है 1980 के दशक में बोरोप्लस क्रीम का अविष्कार हुआ था।

ज़रूरी सूचना – इस लेख में सारी जानकारी तथ्यों के आधार पर दी गयी है, अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श ले। यह पेज इस जानकारी के लिए किसी भी ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.